Today News

जम्मू राजस्व विभाग में डेडवुड कर्मचारियों को जल्द ही कुल्हाड़ी का सामना करना पड़ेगा

जम्मू संभागीय आयुक्त ने अपने प्रभार के सभी 10 जिलों के डीसी को बर्खास्तगी के लिए सूची जमा करने को कहा। विभाग के डेडवुड की पहचान के लिए बनाई गई है समितियां

संभागीय आयुक्त, जम्मू, राघव लंगर ने अपने प्रभार के तहत 10 जिलों के उपायुक्तों को सरकार के निर्देशों के अनुसार, राजस्व विभाग में डेडवुड कर्मचारियों की एक सूची तुरंत जमा करने का निर्देश दिया है।

लैंगर ने शुक्रवार देर रात डिप्टी मजिस्ट्रेटों के साथ वर्चुअल बैठक में ये निर्देश दिए।

उन्होंने उपायुक्तों को सिविल सेवा विनियम, 1956 के प्रावधानों के अनुसार गैर-निष्पादक को हटाने की सुविधा के लिए सत्यापन कार्य को तेजी से पूरा करने का निर्देश दिया।

जम्मू-कश्मीर सरकार ने 48 साल की उम्र में सेवानिवृत्त होने वाले या 22 साल की सेवा पूरी करने वाले ‘डेडवुड’ कर्मचारियों का डेटा संकलित करना शुरू कर दिया है।

प्रदर्शन जैसे मानकों के आधार पर बर्खास्त किए जाने वाले कर्मचारियों की पहचान के लिए जिला स्तर पर पहले ही स्क्रीनिंग कमेटियों का गठन किया जा चुका है।

लैंगर ने डीसी को समीक्षा समितियों की बैठक बुलाने, सिविल सेवा विनियमों के अनुच्छेद 226 (2) के आलोक में कर्मचारियों के प्रदर्शन का आकलन करने और सिफारिशें भेजने को कहा ताकि उनकी बर्खास्तगी की प्रक्रिया शुरू की जा सके।

एक अन्य बैठक में संभागायुक्त ने उपायुक्तों को शहीदों, प्रमुख नागरिकों के नाम पर स्कूलों, सड़कों, रोटियों का नाम उनके नाम पर रखने के लिए एक संशोधित सूची प्रस्तुत करने का भी निर्देश दिया.

.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button